2 MIN READ

बुखार एक चिकित्सकीय लक्षण है, जो विभिन्न प्रकार की शारीरिक बीमारियों के कारण प्रभाव में आता है। बुखार त्वचा, गले,  कान, फेफड़े, मूत्राशय या गुर्दे से जुड़े संक्रमण/ बीमारी के कारण हो सकता है। इसे ज्वर भी कहा जाता है, जिसमें शरीर का तापमान सामान्य स्तर से अधिक होने लगता है। इस लेख में हम आपको बुजुर्गों में बुखार को भगाने के घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं, ताकि आप आसानी से इसका इलाज स्वयं ही कर सकें। 

आइये जानते हैं इन नुस्खों के बारे में: 

1. पानी: बुखार आने पर खुद को जितना हो सके हाइड्रेट रखें। पानी व जूस जैसे तरल पदार्थों का बार-बार सेवन करते रहें। बुखार से शरीर में ऊर्जा और जरूरी तरल पदार्थ की कमी हो जाती है, इसलिए इनकी भरपाई के लिए खुद को हाइड्रेट रखना बहुत जरुरी है| 

2. अदरक एवं लहसुन: बुखार के लिए अदरक एवं लहसुन का इस्तेमाल एक प्राकृतिक औषधि के रूप में किया जा सकता है। इसके एंटीवायरल और जीवाणुरोधी तत्व शरीर में संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं (5) और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। सब्जियों और दाल में अदरक और लहसुन का तड़का देकर खाने से पेट में गर्मी पैदा हो जाती है जिसकी वजह से राहत मिलती है| अदरक डालकर चाय पीने से जुकाम और गले में राहत मिलती  है|   

3. हल्दी मिलाकर दूध: शरीर के विभिन्न रोगों से लड़ने के लिए हल्दी का इस्तेमाल प्राचीन काल से किया जा रहा है। इसमें पाएं जाने वाले बेहतरीन एंटीबायोटिक और एंटीबैक्टीरियल गुण बुखार के संक्रमण को खत्म कर मरीज को आराम पहुंचाते हैं। बुखार का इलाज करने का यह एक प्रभावी नुस्खा है। सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर लें। इसमें मिठास लाने के लिए शहद भी मिला सकते है| 

 4. तुलसी: बुखार की दवा के रूप में आप तुलसी के पत्तों का नुस्खा अपना सकते हैं। आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों में तुलसी को श्रेष्ठ माना गया है और इसमें एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं। तुलसी का इस प्रकार सेवन कर आप बुखार का इलाज स्वयं कर सकते हैं| एक बर्तन में पानी, तुलसी के पत्ते और अदरक डालकर 8 मिनट तक उबालें। फिर इस पानी को छानकर एक कप में डाल लें। अब इसमें आधा चम्मच शहद मिला लें। दिन में दो बार इसका सेवन करें।

5. आराम: बुखार के दौरान शरीर में ऊर्जा की कमी होती रहती है, इसलिए शरीर को आराम की सख्त जरूरत होती है। इस दौरान ज्यादा घूमे-फिरे नहीं, बल्कि आराम करें| ताकि शरीर अपना इलाज का कार्य जारी रखे|   

हर किसी की प्राकृतिक चिकित्सा से ठीक होने की क्षमता कम-ज्यादा रहती है| इन नुस्खों के जरिए अगर बुखार ३ दिनों में ठीक नहीं हो पाया तो तुरंत डाक्टर के पास जाएं| 

ये जरूर पढ़ें7 Vegetables that can Help Keeping your Blood Sugar Levels Normal

Read this here in English and Marathi 

Ask a question regarding बुजुर्गों में बुखार को भगाने के लिए ५ रामबाण इलाज 

An account for you will be created and a confirmation link will be sent to you with the password.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here