4 MIN READ

भारत के वरिष्ठ नागरीकों के लिए ‘आर्थिक समस्या’ ही सबसे बड़ा प्रश्न है| कई वरिष्ठ नागरीक जो कि अतीत में एक व्यावसायिक थे पर अब उन्होंने अपने वारिस को बिजनेस सोप दिया हैं या फिर निजी क्षेत्र में काम करने वाले नागरीक जिन्होंने संपत्ति अपने वारिस के नाम कर दी है, उस संपत्ति पर कोई अधिकार नहीं जता सकते| एक सर्वेक्षण के अनुसार भारत के ७५ प्रतिशत नागरीक पैसों के लिए करीबी या दूर के रिश्तेदारों पर निर्भर हैं|

परन्तु वरिष्ठजनों को चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि, भारत सरकार और कुछ बड़ी प्राइवेट कंपनीज उनकी आर्थिक मदद के लिए आगे बढ़ रही हैं| यहां तक कि २०१९ के बजट में वरिष्ठजनों के लिए अच्छी योजनाएं सम्मिलित की हैं| इसलिए अगर आप ६० साल के हो गए हैं, तो यह ख़ुशी की बात है|

अगर आप भारत के वरिष्ठ नागरीक है तो आपको मिलेंगे ये फायदे:

1. मेडिकल इश्योरेंस लेने पर मिलेगी टैक्स में छूट: 

मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी में आयकर अधिनियम की धारा ८० डी के तहत लाभ उठाया जा सकता है| हालाँकि, कितना लाभ होगा यह बात पॉलिसी लेनेवाले व्यक्ति की आयु पर निर्भर करता है| ६० साल से कम आयु का व्यक्ति स्वयं, पति / पत्नी, बच्चों और माता-पिता सहित अपने मेडिकल बीमा के आधार पर रूपए २५ हजार की कर कटौती का लाभ उठा सकता है। यदि कोई व्यक्ति अपने ६० वर्ष के या उससे अधिक उम्र के माता पिता के लिए पॉलिसी ले रहा हैं, तो उसे टैक्स में रूपए ३० हजार की छूट मिल सकती है| इसका मतलब है कि, ऊपर दिए गए दो प्रकारों के लिए जब आप अपने माता-पिता और परिवार के मेडिकल इंश्योरेंस पॉलिसी पर क्रमशः रूपए ५५ हजार और ६० हजार तक की कर कटौती का लाभ उठा सकते हैं|

2. आयकर से जुड़ी छूट

३ लाख तक की सालाना आय वाले ६० से ८० वर्ष आयु के वरिष्ठ नागरिकों को एवं ५ लाख तक की सालाना आय वाले 80 साल या उससे अधिक आयु के वरिष्ठ नागरीकों को आयकर नहीं देना पड़ेगा| उससे अधिक आय वाले श्रेणी के नागरीकों को नीचे दिए गए टेबल के तहत आयकर का भुगतान करना पड़ेगा:

आयु आमदनी कर
६०- ८० साल३-५ लाख५%
५-१० लाख२०%
१० लाख से अधिक३०%
८० साल या अधिक५-१० लाख२०%
१० लाख से अधिक३०%

 

ये जरूर पढ़ें: आसान है किडनी ट्रांसप्लांट कम खर्चे में करना  

3. टीडीएस की बचत

भारत में अधिकांश वरिष्ठ नागरिक अपनी बचत (फिक्स्ड डिपॉजिट्स, रिकरिंग डिपॉजिट्स आदि) से मिलने वाले ब्याज पर निर्भर होते हैं। हर वित्तीय वर्ष के अंत में, उन्हें ब्याज पर लगने वाले कर से बचने के लिए 15एच का फॉर्म भरना होता है। इस साल की हुई बचत पर ब्याज से होने वाली आय पर कर छूट की सीमा रुपए १० हजार से बढ़ाकर ५० हजार कर दी गई है। यह वरिष्ठ नागरीकों के लिए राहत की बात है।

4. वरिष्ठ नागरिकों की बचत योजना (SCSS)

यह योजना वरिष्ठ नागरीकों और जो जल्दी सेवानिवृत्त हो गए हैं उनके लिए है। यह बुजुर्गों के सबसे लोकप्रिय विकल्पों में से एक है। 60 से ऊपर का कोई भी व्यक्ति डाकघर या बैंक से इस योजना का लाभ उठा सकता है। यह योजना 5 वर्षों तक जमा पूँजी पर ब्याज प्रदान करती है, हालांकि इसे मैच्युरिटी के बाद 3 साल तक बढ़ाया जा सकता है। एससीएसएस के लिए प्रति तिमाही ब्याज दर 8.7% है। SCSS लोकप्रिय है क्योंकि यह सभी निश्चित आयकर योग्य उत्पादों में से सबसे अधिक लाभ प्रदान करता है। यह धारा 80 सी के तहत कर लाभ भी प्रदान करता है। 

5. बैंकों मेंफिक्स्ड डिपॉजिट पर उच्च ब्याज दर

बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) पर वरिष्ठ नागरिकों को ज्यादा ब्याज देते हैं। अधिकांश बैंक ब्याज दर पर बुज़ुर्गों को औरों से ०.५% अतिरिक्त ब्याज प्रदान करती हैं। बैंक वरिष्ठ नागरिकों के लिए कर-बचत खाते या पेंशन खाते के जरिए ब्याज की उच्च दरों की पेशकश भी करते हैं। ब्याज अलग-अलग तरीकों से देय होता है – मासिक, त्रैमासिक और वार्षिक। अगर आपने इस ब्याज को खाते में ही रखा हो तो अगले साल आपके खाते की कुल राशि पर यह ब्याज लागू होगा|

6. डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र

पेंशन प्राप्त करना जारी रखने के लिए, पेंशन प्राप्त करने वाले वरिष्ठजनों को हर साल जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। हालांकि, शारीरिक समस्या होने पर व्यक्ति प्रमाण पत्र जमा करने के लिए बैंक का दौरा करने में असमर्थ हो सकता है।  इसलिए 2014 में वरिष्ठ नागरिकों के लिए आधार कार्ड का एक डिजिटल बायोमेट्रिक संस्करण पेश किया गया था। इसे जीवन प्रमाण पत्र कहा जाता है। इस नई प्रणाली के जरिए लगभग 10 लाख पेंशनरों को लाभ मिला है|

7. लोन सुविधा

घर या संपत्ति खरीदने के लिए इच्छुक वरिष्ठ नागरीकों के लिए अच्छे दिन आ गए हैं। कई बैंकों ने वरिष्ठ नागरिकों को होम लोन देना शुरू कर दिया है, बशर्ते कि उनके पास एक पेंशन खाता हो। वे इस सुविधा के जरिए प्रति महीना ५० गुना या सालाना आय के ४ गुना (७५ लाख) तक होम लोन का लाभ उठा सकते हैं| इसको चुकाने के लिए प्रति माह की आय के ५० प्रतिशत हिस्से की किश्त देनी पड़ेगी| ७५ साल की आयु या १५ सालों तक ईएमआय इनमें से एक विकल्प उपभोक्ता चुन सकते हैं|

8. यात्रा में लाभ

यात्रा करने के इच्छुक वरिष्ठ नागरिकों के लिए विभिन्न लाभ हैं। एयर इंडिया देश की यात्रा करने के लिए इकोनॉमी क्लास में यात्रा करने वाले वरिष्ठ नागरीकों को  ५० % तक की छूट प्रदान करती है। इसके अलावा, प्राइवेट एयरलाइन्स वरिष्ठ नागरीकों को विभिन्न ऑफ़र्स प्रदान करती हैं। भारतीय रेल ५८ वर्ष से अधिक आयु के लोगों (पुरुषों के लिए ६० साल और महिलाओं के लिए ५८ साल) से ५०% तक छूट प्रदान करता है। यहां तक ​​कि नगरपालिका और राज्य परिवहन निगमों पर चलने वाली बसें वरिष्ठ नागरिकों के लिए बस का टिकट और आरक्षित सीटों पर रियायतें देती हैं।

9. विशेष योजनाएँ

सरकार 60-80 वर्ष की आयु के वरिष्ठ नागरिकों के लिए वरिष्ठ मेडिक्लेम पॉलिसी जैसी कई कल्याणकारी योजनाएं प्रदान करती है। 2017 में शुरू की गई LIC वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना  सेवानिवृत्ति के बाद १० साल के लिए वरिष्ठ नागरिकों को सुनिश्चित पेंशन की गारंटी देती है ।

वरिष्ठ नागरिकों के लिए अन्य लाभ

इनके अलावा बैंकों और अस्पतालों में बुजुर्गों के लिए अन्य लाभ भी हैं। 60 से अधिक आयु के लोगों के लिए वैद्यकीय चिकित्सा के लिए अलग कतारें हैं। कई बैंक शाखाओं में भी बुजुर्गों के लिए अलग लाइन है। रेलवे स्टेशन और हवाई अड्डे वरिष्ठ नागरीकों के लिए व्हीलचेयर और व्हीलचेयर के लिए मार्ग जैसी सेवाएं प्रदान करते ताकि कमजोर और चलने में असमर्थ नागरिकों को लम्बे समय तक असुविधा न हो। रेलवे आरक्षण के दौरान वरिष्ठ नागरिकों के लिए महत्व दिया जाता है और उनकी सीटें जल्द ही आरक्षित की जाती हैं। वरिष्ठ नागरिकों के लिए बैंकों में विशेष खाते भी हैं और कुछ शाखाओं में उनके बैंक में आने के तुरंत बाद ही सेवा दी जाती है।

वरिष्ठ नागरीक पासपोर्ट सेवा केंद्रों में त्वरित सेवाओं का आनंद ले सकते हैं। उन्हें ऑनलाइन आवेदन जमा करने की पूरी प्रक्रिया से गुजरने की आवश्यकता नहीं है। वे सीधे वॉक-इन कर सकते हैं और उन्हें आने के तुरंत बाद ही सेवा दी जाती है  ।

भारत सरकार इस देश को वरिष्ठ नागरीकों के लिए अच्छी योजनाएं और आर्थिक सहयोग के जरिए लिए एक अच्छी जगह बनाने का प्रयास कर रहा है|

ये जरूर पढ़ें: जानें प्रधानमंत्री राष्ट्रीय डायलिसिस कार्यक्रम के बारे में

Also read this here in English

Ask a question regarding भारतीय वरिष्ठ नागरीकों को मिलेंगे ९ आर्थिक फ़ायदे

An account for you will be created and a confirmation link will be sent to you with the password.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here