3 MIN READ

बुजुर्गों में कई बीमारियां ऐसी होती हैं जो केवल सर्जरी से ही ठीक हो सकती हैं| सर्जरी यानि की शल्य-चिकित्सा करने के बाद शरीर को स्वस्थ होने के लिए भी समय की आवश्यकता होती है| सर्जरी के बाद तुरंत ही हम अपने रोजाना काम नहीं कर सकते| दवाइयों के असर से ऊपरी निशान धीरे धीरे सूख जाते हैं| हालाँकि,अंधरुनि अंगों को भी अपना कार्य शुरू करने के लिए ऊर्जा और समय दोनों की जरुरत होती है|

सर्जरी होने के बाद मरीज को लगता है कि वह ठीक हो गया है| इस वजह से मरीज अपनी पुरानी जीवनशैली को तुरंत ही अपनाता है| परन्तु ऐसा करने से खतरा बढ़ सकता है| आइये देखते हैं ऐसी गलतियां जो सर्जरी के बाद नहीं करनी चाहिए:

1. अतिरिक्त श्रम

सर्जरी के बाद ठीक होने के लिए डॉक्टर व्यायाम करने का सुझाव देते हैं| इसमें चलना, धीरे धीरे एक एक अंग का व्यायाम करना आदि नियमों का पालन कर हम स्वस्थ रह सकते हैं| परन्तु जल्दी ठीक होने के लिए तेजी से चलना, दौड़ना, वजन उठाना, इंटेंस वर्कआउट करना ऐसा करने से स्वास्थ्य ठीक होने की बजाय बिगड़ सकता है|

2. ज्यादा आराम

किसी भी बीमारी से ठीक होने के लिए आराम की जरूर होती है| सर्जरी के बाद चयापचय की क्रिया को सुचारु रूप में लाने के लिए भी ऐसा आराम करने का सुझाव दिया जाता है| परन्तु, ज्यादा आराम करने से खून जम जाना, अल्सर जैसे जख्म, फुफ्फुसों में मौजूद धमनियों के विकार, मांसपेशियां कमजोर हो जाना आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है|

3. समय परदवाइयां लेना

दवाइयां जख्म को ठीक करने के साथ साथ दर्द कम करने में भी मदद करती हैं| समय पर दवाइयां न ली जाएं तो दर्द की वजह से नींद खुल जाना, भूख न लगना, चयापचय का कार्य ठीक तरह से न होना, कुछ काम करने की इच्छा न होना आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है| जल्दी ठीक होने के लिए समय पर दवाइयां लेना बहुत जरुरी है|

4. भोजन और पानी की अपर्याप्त मात्रा:

जल्दी ठीक होने के लिए कोशिकाओं की निर्मिति होना जरुरी है| कोशिकाएं तभी बनेंगी जब पर्याप्त मात्रा में पोषक भोजन और पानी दोनों की आपूर्ति होगी| खाना न खाना और अपर्याप्त मात्रा में पानी या तरल पदार्थों का सेवन करने की वजह से आपको स्वस्थ होने में वक्त लग सकता है|

ये जरूर पढ़ेंपानी पीना याद दिलाने के लिए फ्री ऐप्स

5. फ़िजिओथेरपी को हल्के में लेना

शल्य-चिकित्साओं के बाद ठीक होने के लिए कभी घर पर ही व्यायाम करने की तो कभी फ़िजिओथेरपी की जरुरत होती है| फ़िजिओथेरपी की अपॉइंटमेंट की तारीख याद रखके फ़िजिओथेरपी करा लेनी चाहिए| फ़िजिओथेरपी को हल्के में लेने से ठीक होने में समय लग सकता है|

6. सर्जरी के बाद दफ्तर का काम

कुछ लोग सर्जरी के तुरंत बाद फोन या लैपटॉप लेकर काम शुरू कर देते हैं| या फिर कुछ दिन आराम करके तुरंत ही ऑफिस चले जाते हैं| इस भागदौड़ में स्वास्थ्य को नुकसान पहुँच सकता है| इसलिए सर्जरी के बाद कितने दिनों की बेडरेस्ट लेनी है ये डॉक्टर से पूछ कर फिर काम शुरू करें|

7. ड्राइविंग करना

सर्जरी के कुछ दिनों बाद ही ड्राइविंग करना अपने जान पर खेलने जैसा साबित हो सकता है| आपके शरीर में संवेदना कम होने की वजह से मस्तिष्क तक सन्देश पहुँचने में समय लगता है| इसकी वजह से सड़क दुर्घटना का भय भी हो सकता है| 

8. सांसो से जुड़े व्यायाम करना

यदि आपके पेट, ह्रदय, रीढ़ की हड्डी या फेंफड़े की सर्जरी हुयी है, तो सम्भव है कि डॉक्टर आपको सांसो से जुड़े व्यायाम और प्राणायाम करने की सलाह दें| इससे आपके फेंफड़े तुरंत कार्यक्षम होते हैं और जमे हुए बलगम को हटाने में मदद होती है| ऑक्सीजन की आपूर्ति होने की वजह से शरीर के सारे अंगों में शुद्ध रक्त का संचार होने में मदद होती है| इसलिए अगर डॉक्टर ने ऐसी सलाह दी है तो उसे नजरअंदाज न करें|

ये जरूर पढ़ें: देखभाल करने वाले व्यक्ति को कैसे चुनें?

 

Ask a question regarding सर्जरी के बाद न करे ये गलतियां

An account for you will be created and a confirmation link will be sent to you with the password.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here