उम्र के साथ बढ़ता हुआ मोटापा कम करने के लिए ५ आसान योगासन

उम्र बढ़ने के साथ साथ बढ़ते हुए मोटापे को कम करने की प्रक्रिया के दौरान निष्ठा और अनुशासित जीवनशैली की अत्यधिक आवश्यकता है। हममें से बहुत से लोग मोटापा कम करना चाहते हैं जिसके लिए हम अलग अलग डायट, व्यायाम, एरोबिक्स और योग का उपयोग करते हैं। पर कुछ दिनों बाद इन अभ्यासों से ऊब जाने की वजह से हम मोटापा कम करने की इस प्रक्रिया को आधे में छोड़ देते हैं| बुढ़ापे में यह समस्या उग्र रूप धारण कर जटिल शारीरिक विकारों का कारण बन सकती है|  भारतीय 'योग' का अभ्यास करने से दिन के कुछ ही मिनटों में आप योगासन कर मोटापे को दूर भगा सकते हैं| प्रतिदिन योग करने से आपके शरीर में जो खिंचाव उत्पन्न होता है वो ऐसे अतिरिक्त चर्बी को जला देता है जैसे कपड़े से पानी निचोड़ा जा रहा हो| इये देखते हैं बुजुर्गों के लिए कुछ आसान योगासन, जो रोज करने से मोटापा आपसे चार कदम की दूरी पर रहेगा: 

0
3 MIN READ

1. सूर्यनमस्कार:

 सूर्यनमस्कार में बारह आसनों का अद्भुत मिलाफ होता है| इन आसनों का प्रभाव पूरे शरीर पर पड़ता है, विशेष रूप से जहाँ अतिरिक्त चर्बी का बड़ा समूह होता है। यह योग का प्रकार वजन कम करनें में अत्यंत प्रभावी साबित हुआ है अतः इसे आसनों का राजा भी कहा जाता है।

2. वीरभद्रासन

खड़े होकर दोनों पैरों में 3 से 3.5 फीट का अंतर रखें|  दोनों हाथों को ऊपर करके जमीन के समान्तर रखें। फिर अपने दोनों हाथों की हथेलियों को अपने सिर के ऊपर लें जाएं और बाहों को कान से सटाकर  उनको आपस में जोड़ लें। दाएं पैर से जमीन के साथ ९० अंश और बाएं पैर को पीछे की ओर ले जाकर बिना मोड़े जमीन के साथ ४५ अंश के कोण में रखें| फिर अपने सिर को आसमान की ओर देखकर पीछे की तरफ झुकाएं| अपनी शारीरिक क्षमता के अनुसार इस स्थिति में ३०-६० सेकंड्स तक रहने के बाद आसन से बाहर निकलें| फिर पैरों की स्थिति बदल कर इसे दोहराएं|

3. उत्कटासन

दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी रखते हुए सीधे खड़े हो जाएँ।  दोनों हाथों को ऊपर करके जमीन के समान्तर रखें और अपनी कुहनियां सीधी रखें। घुटनों को मोड़कर इस स्थिति में आएं जैसे आप कुर्सी पर बैठे हैं| अपनी शारीरिक क्षमता के अनुसार इस स्थिति में ३०-६० सेकंड्स तक रहने के बाद आसन से बाहर निकलें|

4. बंध कोणासन:

सबसे पहले आसन पर बैठ कर दण्डासन की अवस्था में आए| इसके बाद तितली आसन के समान ही घुटनों को मोड़ कर पैरों को दोनों हांथो से मिला ले। इस दौरान आपके तलवे एक दूसरे को छूने चाहिए। इसके बाद जितना हो सके पैरों को शरीर के पास लाने की कोशिश करें। फिर दोनों हांथो को घुटने से नीचे की तरफ दबाने का प्रयास करे। ताकि उनका ज़मीन को स्पर्श हो जाए। ध्यान रहे की इसे उतना ही करे जितना आप सहन कर सके। शुरू में घुटने पूरी तरह से नीचे नहीं होते, इसलिए निराश न हो। धीरे धीरे अभ्यास पर यह होने लगेगा।

5. नवासन:

अपनी पीठ के बललेट जाएं| शरीर के ऊपरी और निचले हिस्से को धीरे धीरे ऊपर उठाकर शरीर को ‘व्ही’-शेप में लाने की कोशिश करें| अपनी शारीरिक क्षमता के अनुसार इस स्थिति में ३०-६० सेकंड्स तक रहने के बाद आसन से बाहर निकलें|

इन आसनों का वृद्धावस्था में अभ्यास करते समय बीच बीच में जमीन पर शांति से लेटकर शवासन करना आवश्यक है| किसी भी बीमारी से आप पीड़ित हैं, तो इन आसनों का अभ्यास करने से पूर्व डॉक्टर की राय जरूर लें|

 

Ask a question regarding उम्र के साथ बढ़ता हुआ मोटापा कम करने के लिए ५ आसान योगासन

An account for you will be created and a confirmation link will be sent to you with the password.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here